COPA (कोपा) Full Form & Meaning

 

COPA (कोपा) का फुल फॉर्म या मतलब Computer Operator and Programming Assistant (कंप्यूटर ऑपरेटर एंड प्रोग्रामिंग असिस्टेंट) होता है

आज जब लोगों के बीच आईटीआई कोर्स का क्रेज बढ़ता जा रहा है, तो उसमें से कई ऐसे ब्रांच हैं जिसका डिमांड सबसे ज्यादा है

उन्हीं में से एक फेमस और बहुत ही ज्यादा डिमांड वाला आईटीआई ट्रेड कोपा यानी कंप्यूटर ऑपरेटर एंड प्रोग्रामिंग असिस्टेंट है, चुकी यह कंप्यूटर और आईटी से रिलेटेड ब्रांच है, इसलिए युवाओं को काफी पसंद आ रहा है

यह भारत सरकार की तरफ से चलाए जाने वाले स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम में से एक है जिसे एनसीवीटी यानी नेशनल कौंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग की देखरेख में चलाया जाता है

 

COPA full form in Hindi

इस कोर्स के दौरान कंप्यूटर से जुड़ी सारी जानकारी दी जाती है, जिससे आप कंप्यूटर कैसे ऑपरेट करना है यह जान पाते हैं, और साथ में प्रोग्रामिंग का भी बेसिक नॉलेज दिया जाता है

मतलब यह कोर्स करने के बाद आप कहीं भी कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में काम करने के लिए एलिजिबल होंगे

अगर किसी स्टूडेंट का इंटरेस्ट कंप्यूटर की फील्ड में है या वह एक ऐसा कोर्स करना चाहता है, जिससे कम खर्च में, कम समय में कमाई करना शुरू कर दें, तो उसे यह कोर्स जरूर करनी चाहिए

पात्रता (Eligibility)-

कोई भी स्टूडेंट जिसने दसवीं साइंस और मैथ पेपर के साथ पास कर लिया है इस कोर्स को ज्वाइन कर सकता है

Also Read  AIRVRC Full Form

COPA (कोपा)  पाठ्यक्रम के उद्देश्य

  • कंप्यूटर की बुनियादी बातों को सीखना
  • कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर मूल बातें
  • सॉफ्टवेयर इंस्टालेशन
  • व्यक्तिगत कंप्यूटर पर ऑपरेटिंग अनुभव
  • डाटा एंट्री का काम
  • टाइपिंग की गति बढ़ाना
  • जावास्क्रिप्ट और VBA सीखना
  • नेटवर्किंग अवधारणाओं
  • Microsoft Office, Microsoft Excel, PowerPoint और अन्य जैसे महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों पर काम कर रहा है
  • इंटरनेट अवधारणाओं को सीखना
  • वेबसाइट विकास की मूल बातें
  • नेटवर्क सुरक्षा
  • लेखांकन की मूल बातें
  • रोज़गार कौशल

कोर्स का ड्यूरेशन

इस कोर्स का ड्यूरेशन 1 साल का होता है जिसमें से 6 महीने के 2 सेमेस्टर होते हैं

COPA प्रवेश प्रक्रिया-

  • अधिकांश निजी संस्थानों में सीधे प्रवेश
  • अधिकांश सरकारी कॉलेजों के लिए प्रवेश परीक्षा

ट्यूशन फीस

इस कोर्स के लिए ट्यूशन फीस सरकारी इंस्टीट्यूशंस के लिए 5000 के अंदर होता है, वही प्राइवेट इंस्टीट्यूशंस में 40 से 50 हजार तक भी हो सकता है

कोपा ट्रेड  सिलेबस

  • COPA theory
  • Trade practical
  • Employability skills

COPA (कोपा) पाठ्यक्रम के बाद नौकरी का अवसर

जैसा कि आप जानते हैं आज कंप्यूटर का प्रयोग हर फील्ड में हो रहा है, तो साथ में बहुत ज्यादा डिमांड है, कंप्यूटर ऑपरेटर का
इसलिए कोपा कोर्स करने वाले स्टूडेंट्स को एक अच्छी नौकरी मिल जाने की संभावना बहुत अच्छी रहती है, कुछ प्रमुख जॉब अप्पोर्तुनिटी-

  • computer operator
  • network operator
  • office automation
  • smart accounting
  • internet operator
  • web designing
  • cyber cafe setup
  • Data entry operator
  • computer trainer in schools

प्राइवेट और सरकारी दोनों तरह की नौकरियां उपलब्ध हैं कोपा कोर्स करने वाले स्टूडेंट के लिए

अधिकतर स्टूडेंट जिनको गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरी मिलती है इस कोर्स के बाद ,उन्हें कंप्यूटर ऑपरेटर या डाटा एंट्री ऑपरेटर का रोल मिलता है

Also Read  What is the full form of CISTEM meaning, and definition 

हायर एजुकेशन के ऑप्शन

इस कोर्स को करने के बाद आप कंप्यूटर या किसी अन्य फील्ड में भी हायर एजुकेशन के लिए जा सकते हैं

आप अपने 10th मार्क के बेसिस पर ही आगे के कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं

सैलरी

इस कोर्स के को करने के बाद स्टूडेंट को शुरुआती सैलरी ₹10000 से ₹15000 तक मिल जाती है, एक्सपीरियंस के साथ आपकी सैलरी बढ़ जाएगी

बहुत सारे स्टूडेंट इस कोर्स को करने के बाद अपना खुद का बिजनेस शुरू करते हैं, जैसे कि कुछ कंप्यूटर सेंटर शुरू करते हैं, वहीं कुछ स्टूडेंट इंटरनेट कैफ़े शुरू करते हैं
और देखा गया है कि दोनों ही तरह का बिजनेस शुरू कर लोग अच्छा कमाई करते हैं

 

Sharing Is Caring:

Leave a Comment